Bigg Boss OTT 2 Episode 26 Highlights: कप्तानी के लिए अविनाश-मनीषा के बीच कांटे की टक्कर, जिया के आंखों से छलके आंसू

बिग बॉस ओटीटी 2 का नवीनतम एपिसोड जियो सिनेमा पर आ चुका है। 12 जुलाई 2023, आज के एपिसोड में बहुत मस्ती हुई। वाइल्ड कार्ड एंट्री भी शो में खलबली मचा रही है, और बिग बॉस के घर में मस्ती की पाठशाला भी चल रही है। वहीं पूरे घर में अविनाश सचदेव ने जमकर मजाक उड़ाया।

आप भी इसकी वजह जानकर रो जाएंगे। वहीं, मनीषा रानी और अविनाश सचदेव ने कप्तानी की रेस में कांटे की टक्कर की। आइए जानते हैं कि बिग बॉस ओटीटी 2 के 26वें एपिसोड में क्या खास हुआ। अभिषेक मल्हान, बेबिका धुर्वे, मनीषा रानी, अविनाश और फलक नाज से लेकर पूजा भट्ट तक सभी प्रतिभागियों ने अपनी अलग पहचान बनाई।

Bigg Boss OTT 2 पर अपडेट: जिया शंकर और फलक नाज की बहस खत्म होने लगी है, लेकिन जिया और अविनाश की लड़ाई अभी भी जारी है। एक बार फिर खाने को लेकर हंगामा हुआ। दरअसल, बेबिका ध्रुवे को कुछ दिन पहले ही जिया ने कीचन से निकाल दिया था।

क्योंकि बेबिका ने कहा था कि वह जद और अभिषेक के खाने को नहीं बनाएगी। लेकिन फलक ने अब खाना भी नहीं बनाया। तब जिया बेबिका को कीचन में काम करने के लिए फिर से कहती है।

Bigg Boss OTT 2 Episode 26 Highlights

बेबिका और जद हदीदी का झगड़ा भी खत्म

Bigg Boss OTT 2 में लड़ाई: बिग बॉस हाउस में हम नए समीकरण देखेंगे। वास्तव में, बेबिका, जो कल तक जद का खाना नहीं बनाना चाहती थीं और उनका चेहरा नहीं देखना चाहती थीं, अब जद के साथ बैठ रही हैं। उनके हाथ से खा रहे हैं।

फलक नाज और अविनाश सचदेव एक साथ बेडरूम में बैठे थे। वहीं, जद हदीदी फलक-अविनाश और जिया शंकर ने टिप्पणी की। जब हदीद ने उन्हें लवबर्ड कहा, तो जिया ने उन्हें श्री और श्रीमती सचदेव कहा। फलक ने इसे सुनकर हँस दिया। फलक और अविनाश दोनों इस बात पर गुस्सा हो जाते हैं।

बिग बॉस ने बीबी स्कूल की शुरुआत की है। जहां बेबिका हिस्ट्री का शिक्षक है, मनीषा हिंदी का शिक्षक है। शेष घरवाले विद्यार्थी होंगे। हर प्रतिभागी को आठ गुलाब मिलेंगे। मैम अधिक बार जीतेंगे। इससे वह कैप्टेंसी का दावेदार बनेगी।

हिंदी की क्लास शुरू, मैम मनीषा ने हाफ पैंट पर उठाए सवाल

जैसे ही क्लास शुरू हुआ, मनीषा ने जद हदीदी की हाफ पैंट पर प्रश्न उठाया। वहीं, अविनाश ने मनीषा की हिंदी क्लास में बहुत हंगामा मचाया। वहीं, क्लास में मनीषा ने पूजा भट्ट से पूछा कि वह फलक से सीधे बहस क्यों नहीं करती है? वहीं, अविनाश ने बताया कि वह इस क्लास में फलक और उन्हें लक्ष्य कर रहा था।

सिर्फ अभिषेक मल्हान को मनीषा ने क्लास से बाहर निकाला था। ऐसे में अभिषेक ने हर विद्यार्थी का टिफिन बॉक्स अपने खाने में रख लिया। ऐसे में अभिषेक को यह अधिकार मिला कि वह इस राउंड से किस खिलाड़ी को कप्तानी की दौड़ से बाहर करते हैं। यही कारण था कि अभिषेक ने जिया को कैप्टनेंसी राउंड से बाहर कर दिया।

जब बेबिका की क्लास शुरू हुई, हंगामा दोगुना हो गया। जब बेबिका ने अभिषेक के माता-पिता का नाम पूछा, फुकरा इंसान गुस्सा हो गया। यही कारण था कि वे दोनों एक दूसरे के माता-पिता का नाम लेने लगे। इस राउंड में बेबिका ने जद, पूजा भट्ट और अविनाश को क्लास से बाहर कर दिया।

इसके बाद पूजा, जद और अविनाश ने अधिक से अधिक टिफिन बॉक्स अपने पाले में रखना शुरू कर दिया। इस टास्क में अविनाश सचदेव ने सबसे ज्यादा आठ टिफिन बॉक्स पाले। इसके बाद अविनाश ने फलक नाज को कप्तान पद से हटा दिया।

मनीषा को किस-किसने ने दिए गुलाब, पूजा भट्ट को किया कप्तानी से बाहर

मनीषा रानी ने दूसरी क्लास में प्रवेश किया। इस बार मनीषा ने जिया और अविनाश को क्लास से बाहर निकाला। फलक ने इस राउंड में एक, हदीद ने दो और अभिषेक ने मनीषा रानी को दो प्रत्येक दिन दिए। इसके साथ मनीषा के पास छह गुलाब हो गए, वहीं अविनाश ने इस राउंड में अधिक टिफिन प्राप्त किए। इस राउंड में अविनाश ने पूजा भट्ट को कप्तानी पद से बाहर कर दिया।

Bigg-boss-vote.com allows viewers to dig deeper into the contestant’s performance on a weekly basis. We stay up to date about the latest news of the show like elimination etc.

फलक, जिया और अविनाश ने बेबिका की कक्षा में जमकर हंगामा किया। अविनाश ने बेबिका को फनी तरह परेशान किया। वहीं, पूजा और जद ने बेबिका की मदद की। इस राउंड में जिया शंकर को बेबिका ने क्लास से बाहर निकाला। यही कारण था कि जिया ने जद हदीद को कैप्टन की दौड़ से बाहर कर दिया।

मनीषा रानी को मस्ती की पाठशाला राउंड में सात गुलाब मिले, जबकि बेबिका को चार गुलाब मिले। यही कारण है कि मनीषा ने ये राउंड जीत लिए और कप्तानी की दावेदारी के लिए पक्का हो गया। वहीं दूसरा नाम अविनाश हैं, जिन्हें कप्तानी के लिए किसी ने बाहर नहीं निकाला है। जद जिया इससे बहुत नाराज था। जिया-जद के बीच एक बार फिर विवाद हुआ।

जब जिया ने हदीद को कप्तानी की रेस से बाहर किया, तो वह उनसे नाराज हो गया। जिया ने हदीद से कहा कि उनके पिता नहीं हैं। वह उन्हें डैड कहती है, जो उनके लिए बहुत महत्वपूर्ण है। शंकर उनका नाम नहीं है; इसके बजाय, वह अपने पिता का नाम अपने सरनेम के रूप में प्रयोग करती हैं।

guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x